Results 1 to 2 of 2

Thread: सखि वे मुझसे कह कर जाते - मैथिलीशरण गुप्त

          
   
  1. #1
    Senior Member
    status.
     
    Manav's Avatar
    Join Date
    11th January 2012
    Posts
    379
    Rep Power
    193

    सखि वे मुझसे कह कर जाते - मैथिलीशरण गुप्त

    सखि, वे मुझसे कहकर जाते,
    कह, तो क्या मुझको वे अपनी पथ-बाधा ही पाते ?

    मुझको बहुत उन्होंने माना
    फिर भी क्या पूरा पहचाना ?
    मैंने मुख्य उसी को जाना
    जो वे मन में लाते ।
    सखि, वे मुझसे कहकर जाते ।
    स्वयं सुसज्जित करके क्षण में,
    प्रियतम को, प्राणों के पण में,
    हमीं भेज देती हैं रण में -
    क्षात्र-धर्म के नाते ।
    सखि, वे मुझसे कहकर जाते ।
    हु‌आ न यह भी भाग्य अभागा,
    किसपर विफल गर्व अब जागा ?
    जिसने अपनाया था, त्यागा;
    रहे स्मरण ही आते !
    सखि, वे मुझसे कहकर जाते ।
    नयन उन्हें हैं निष्ठुर कहते,
    पर इनसे जो आँसू बहते,
    सदय हृदय वे कैसे सहते ?
    गये तरस ही खाते !
    सखि, वे मुझसे कहकर जाते ।
    जायें, सिद्धि पावें वे सुख से,
    दुखी न हों इस जन के दुख से,
    उपालम्भ दूँ मैं किस मुख से ?
    आज अधिक वे भाते !
    सखि, वे मुझसे कहकर जाते ।
    गये, लौट भी वे आवेंगे,
    कुछ अपूर्व-अनुपम लावेंगे,
    रोते प्राण उन्हें पावेंगे,
    पर क्या गाते-गाते ?
    सखि, वे मुझसे कहकर जाते ।





  2. #2
    Senior Member
    status.
     
    Manav's Avatar
    Join Date
    11th January 2012
    Posts
    379
    Rep Power
    193

    शिशिर न फिर गिरि वन में

    शिशिर न फिर गिरि वन में

    शिशिर न फिर गिरि वन में
    जितना माँगे पतझड़ दूँगी मैं इस निज नंदन में
    कितना कंपन तुझे चाहिए ले मेरे इस तन में
    सखी कह रही पांडुरता का क्या अभाव आनन में
    वीर जमा दे नयन नीर यदि तू मानस भाजन में
    तो मोती-सा मैं अकिंचना रक्खूँ उसको मन में
    हँसी गई रो भी न सकूँ मैं अपने इस जीवन में
    तो उत्कंठा है देखूँ फिर क्या हो भाव भुवन में।




Thread Information

Users Browsing this Thread

There are currently 1 users browsing this thread. (0 members and 1 guests)

Members who have read this thread: 0

Bookmarks

Posting Permissions

  • You may not post new threads
  • You may not post replies
  • You may not post attachments
  • You may not edit your posts
  •